-->

Search More

DTP Full form | FULL Form of DTP | what is dtp | Best editing software

What is DTP in hindi :- 

हेलो दोस्तों अपने कभी न कभी डीटीपी का नाम तो सुना ही होगा यदि नहीं सुना है तो चलिए आज हम इसी के बारे में बात करने जा रहे है 

DTP Full Form होता है DESKTOP Publishing होता है अर्थात अपनी मेज पर रखे Tools द्वारा ही प्रकाशन का Work करना, इसका व्यवहारिक अर्थ है – Computer और उससे जुडे tools द्वारा Publishing  का Work करना, दूसरे Words मे इस System मे पाठ्य Compose करने, Image आदि बनाने से लेकर उन्हे विभिन्न Paga पर स्थान देने अर्थात Set करने तक का सारा Work अपनी Table पर रखे Computer मे ही किया जाता है और Last मे ऐसी मास्टर प्रति Leser Printer पर Design करके Ready कर ली जाती है, जिसे आप किसी Design की विधि जैसे offset विधि से सीधे Page पर उतार सकते है और इच्छानुसार कितनी भी Page  छाप सकते है संक्षेप मे, अपने Desktop Computer की सहायता से पूरी तरह छापने योग्य दस्तावेज तैयार करना ही DTP ( Desktop publishing ) कहा जाता है, इसके लिये Many Type के Program उपलब्ध है, जिनके द्वारा आप Part मे बंटी हुई Information और सामाग्री को आपस मे Add कर एक संपूर्ण दस्तावेज बना सकते है।

DTP  की सुविधा व्यवसायिक Publishing ही नही  Office work के Area मे भी एक प्रमुख उपलब्धि है सभी छोटी Biggest Companies अपने Work के बारे मे Many Type की सामाग्री जैसे पैम्फलेट, Poster, Ads, Balance sheet , प्रगति पत्रिका, Books आदि प्रतिवर्ष Print कराती है,  पहले यह work हस्तचालित type Setting द्वारा किया जाता था, जिसमे प्रत्येक शब्द हाथ से Compose करना पडता है और Image या Graph का Block बनाना पडता है, Compose हो जाने के बाद उसकी Research करके उसे छापा जाता है, इस Work मे कभी भी पूर्ण संतुष्टि नही मिलती क्योंकि Work के बीच मे दस्तावेज मे कोई भी Large changes या Implementation करना Possible नही होता है।

लेकिन DTP की सुविधा उपलब्ध हो जाने से यह Work बहुत सरल, विविधापूर्ण और रूचिकर हो गया है इसमे Printing की Products पर हमारा पूर्ण Control रहता है, हम Letter को मनचाहे आकार और रूप मे ढाल सकते है और पलक झपकते ही उनका टाइपफेस या फॉण्ट  बदल सकते है, मनचाहे रंगो के चित्र बनाना उनका आकार बदलना और दस्तावेज मे कही भी स्थापित करना भी बंहुत सरल हो गया है और पूरी तरह संतुष्ट होने के बाद उनकी मास्टर प्रति छापकर अधिक प्रतियो  की छपाई हेतु दी जा सकती है, डीटीपी से प्रकाशन की सारी प्रक्रिया बहुत ही सरल और तेज हो गयी है, जिसके कारण मोटी मोटी पुस्तके भी कुछ ही दिनो मे छापकर तैयार कर दी जाती है आपके हाथो मे जो पुस्तक है, जो पुस्तक है, वह भी डीटीपी प्रणाली द्वारा ही तैयार की गयी है।

डीटीपी के कार्य के लिये मुख्यतः तीन वस्तुओ की आवश्यकता होती हैः एक पर्सनल कम्प्यूटर, एक लेजर प्रिंटर तथा डीटीपी का सॉफ्टवेयर , पर्सनल कम्प्यूटर मे पर्याप्त क्षमता की रैम तथा हार्ड डिस्क एवं माउस अवश्य होने चाहिए, अच्छी छपाई के लिये लेजर प्रिंटर  भी आवश्यक है वैसे प्रूफ आदि की छपाई साधारण डॉट मैट्रिक्स प्रिंटरो पर भी की जा सकती है, डीटीपी का वास्तविक कार्य इसके लिये उपयोग किये जाने वाले विशेष सॉफ्टवेयर  पैकेजो द्वारा किया जाता है।

What is DTP?
It is a process of designing and producing print document using software application with graphics capabilities. Also, Multiple DTP is performing the process in multiple languages. When we localize a document, we must do DTP for each and every language. It can also be a time consulting part of the localization process if the layout is complex and if all of the graphics require manipulation.
In Multiple DTP, it specialists work to ensure documents meet the standards of the language and culture i.e. targeting, while preserving the look and feel of the original document. Most of the languages service providers have in-house DTP specialists who are experts in standard and non-standard DTP applications.

Applications of DTP specialists-

  • Adobe ‘’Frame Maker’’
  • Quark Xpress
  • Adobe ‘’In Design’’
  • Adobe ‘’Frame Maker +SGML’’
  • Adobe ‘’Page Maker’’
  • Arbor Text Adept Editor
  • Microsoft ‘’Power Point’’
  • Microsoft ‘’Word’’
  • Adobe ‘’Acrobat’’
  • Microsoft ‘’Visio’’

How Multiple DTP Works?

DTP is used for translated documents that involve preparing and setting up the files, formatting the localized documents, creating localized graphics, proofing and evaluating quality.

What You Should Know about DTP-

  • In Multiple DTP it preserves the look and feel of your documents in the target language.
  • In DTP, colors, symbols, gestures and other elements of graphics and understood differently in different cultures and also some graphics may need to be replaced with more culturally appropriated images.
  • In DTP, the only way to ensure the end of the document meets the expectations of the target culture is to have DTP performed by a localization expert.
  • In DTP, Graphics with the text embedded increase the costs and time needed for DTP.
  • In DTP, Text is very likely to expand or contract once and it is translated and we should plan for that in creation.

DTP File Format-

DTP is a page layout file format used by Publish-IT. DTP files contain page information such as text, images and formats. Publish-IT is Desktop publishing software, which can be used to create newsletters, brochures and other printable documents. DTP files can also be used as PDF files.

More about DTP-

A desktop publishing system allows to used difference typefaces, specify various margins and justifications and embed illustration and graphic directly into the text. The most powerful desktop publishing system enable you to create illustrations, while less powerful systems let you insert illustration created other programs.
As word-processing programs becomes more and more powerful, the line separating such programs from desktop publishing system is becoming blurred. In general, DTP applications give us more control over typographical characteristics, such as kerning and also provide more support for the full output.
A particular important feature of DTP is that it enable us see on the display screen how the document will appear when it printed. The costs of hardware that made a DTP is impractical for most uses. But, as the price of personal computers and printers are fallen, DTP have become increasingly popular for publishing newsletters, brochures, books and other documents that required a typesetter.
Once if we produced a document with DTP system, we can output directly to a printer or also we can produce a post script file which we can then take to a service bureau. The service bureau has special machines that convert the file to film, which can be used to make plates for offset printing.

Computer Related Important Full Form


A.L.U (एएलयू) – Arithmatic Logical Unit (अर्थमेटिक लॉजिक यूनिट)
COBOL (कोबोल) – Common Business Oriented Language (कॉमन बिज़नस ओरिएंटेड लैंग्वेज)
Ctrl – Contrrol (कण्ट्रोल)
HTML (एचटीएमएल) – Hyper Text Markup Language (हाइपर टेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज)
I.B.M (आइबीएम) – International Business Machines Corporation (इंटरनेशनल बिज़नस मशीन कारपोरेशन)
OCR (ओसीआर) – Optical Character Recognition (ऑप्टिकल करैक्टर रिकग्निशन)
PC (पीसी) – Personal Computer (पर्सनल कंप्यूटर)
PROLOG (प्रोलोग) – Programing in Logic (प्रोग्रामिंग इन लॉजिक)
RAM (रैम) – Random Acces Memory (रैंडम एक्सेस मेमोरी)
ROM (रोम) – Read Only Memory (रीड ओनली मेमोरी)
RTC (आरटीसी) – Red Time Clock (रेड टाइम क्लॉक)
PM (पीएम) – Page Maker (पेजमेकर)
IC (आईसी) – Integrated Circuit (इंटीग्रेटेड सर्किट)
IP (आईपी) – Internet Protocol (इन्टरनेट प्रोटोकॉल)
CUPID (क्यूपिड) – Computer Use by The Print Disabled (कंप्यूटर यूज़ बाई प्रिंट डिसेबल्ड)
DBMS (डीबीएमएस) – Data base management system (डाटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम)
DEC (ड़ीइसी) – Digital Equipment Corporation (डिजिटल इक्विपमेंट कारपोरेशन)
ISDN (आइएसडीएन) – Integrated service digital network (इंटीग्रेटेड सर्विस डिजिटल नेटवर्क)
ISP (आईएसपी) – Internet Service Provider (इन्टरनेट सर्विस प्रोवाइडर)
Internet  (इन्टरनेट) – International Network (इंटरनेशनल नेटवर्क)
IT (आईटी) – Information Technology (इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी)
KB (केबी) – Kilo byte (किलो बाइट)
LASER (लेज़र) – Light Amplification by Stimulated Emission of Radiation (लाइट एम्प्लीफिकेशन बाई स्टिमुलेटेड एमिशन ऑफ रेडिएशन)
LIFO (लिफो) – Last in first out (लास्ट इन फर्स्ट आउट)
LAN (लैन) – Local Area Network (लोकल एरिया नेटवर्क)
LISP (लिस्प) – List Processing (list प्रोसेसिंग)
MB  (एमबी) – Megabyte (मेगाबाइट)
MIS (एमआइएस) – Management Information System (मैनेजमेंट इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी)
DOS (डॉस) – Disk Operating System (डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम)
DTP (डीटीपी) – Desktop Publishing (डेस्कटॉप पब्लिशिंग)
OTP (ओटीपी) – One Time Password (वन टाइम पासवर्ड)
DTR  (डीटीआर) – Data Transfer Rate (डाटा ट्रान्सफर रेट)
EBCDIC (ईबीसीडीआईसी) – Extended Binary Coded Decimal Interchange Code (एक्सटेंडेड बाइनरी कोडेड डेसीमल इंटरचेंज कोड)
EDP (ईडीपी) – Electronic Data Processing (इलेक्ट्रॉनिक डाटा प्रोसेसिंग)
ENIAC (एनीअक) – Electronic Numerical Integrator and Calculator (इलेक्ट्रॉनिक नुमेरिकल इन्तेग्रटर एंड कैलकुलेटर)
E-Mail (-मेल) – Electronic Mail (इलेक्ट्रॉनिक मेल)
E-com(-कॉम) – Electronic Commerce (इलेक्ट्रॉनिक कॉमर्स)
FIFO – First in first out (फर्स्ट इन फर्स्ट आउट)
FTP  (एफटीपी) – File Transfer Protocol (फाइल ट्रान्सफर प्रोटोकॉल)
FORTRAN – Formula Translation (फार्मूला ट्रांसलेशन)
GB (जीबी) – Gigabyte (गीगाबाइट)
GUI (जीयुआई) – Graphical User Interface (ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस)
HLL – High Level Language (हाई लेवल लैंग्वेज)
HTTP – Hypertext Transfer Protocol (हाइपर ट्रान्सफर प्रोटोकॉल)
MS (एमएस) – Microsoft (माइक्रोसॉफ्ट)
MODEM (मॉडेम) – Modulator Demodulator (मोडुलेटर डीमोडुलेटर)
NASSCOM (नैसकॉम) – National Association for Software and Service Companies (नेशनल एसोसिएशन फॉर सॉफ्टवेर एंड सर्विस कम्पनीज)
OCR (ओसीआर) – Optical Character Recognition (ऑप्टिकल करैक्टर रिकग्निशन)
PC (पीसी) – Personal Computer (पर्सनल कंप्यूटर)
SNOBOL (स्नोबॉल) – String Oriented Symbolic Language (स्ट्रिंग ओरिएंटेड सिंबॉलिक लैंग्वेज)
TCP (टीसीपी) – Transmission Control Panel (ट्रांसमिशन कण्ट्रोल पैनल)
TCP (टीसीपी) – Transmission Control Protocol (ट्रांसमिशन कण्ट्रोल प्रोटोकॉल)
UPS (यूपीएस) – Uninterrupted Power Supply (यूनिन्टरप्टिड पॉवर सप्लाई)
VDU (वीडीयू) – Visual Display Unit (विजुअल डिस्प्ले यूनिट)
VLSL (वीएलएसएल) – Very Large Scale Integration (वेरी लार्ज स्केल इंटीग्रेशन)
VSNL (वीएसएनएल) – Videsh Sanchar Nigam Limited (विदेश संचार निगम लिमिटेड)
CDAC (सीडीएसी) – Centre for Development of Advanced Computing (सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ़ एडवांस्ड कंप्यूटिंग)
CVT (सीवीटी) – Constant Voltage Transformer (कांस्टेंट वोल्टेज ट्रांसफार्मर)
CPU (सीपीयू) – Central Processing Unit (सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट)
CGA (सीजीए) – Colour Graphic Adapter (कलर ग्राफ़िक एडाप्टर)
CD – ROM (सीडीरोम) – Compact Disk-Read only Memory (कॉम्पैक्ट डिस्करीड ओनली मेमोरी)
CAM (सीएएम) – Computer Aided Manufacturing (कंप्यूटर एडेड मैन्युफैक्चरिंग)
CD (सीडी) – Compact Disk (कॉम्पैक्ट डिस्क)
CAD  (सीएडी) – Computer Aided Design (कंप्यूटर एडेड डिजाईन)
BSNL (बीएसएनएल) – Bharat Sanchar Nigam Limited (भारत संचार निगम लिमिटेड)
BIT (बिट) – Binary Digit (बाइनरी डिजिट)
BASIC (बेसिक) – Beginners All Purpose Symbolic Instruction Code (बिगनर्स आल पर्पस सिंबॉलिक इंस्ट्रक्शन कोड)
ALGOL (ऐल्गॉल) – Algorithmic Intelligence (अल्गोरिथमिक इंटेलिजेंस)
ASCII (एएससीआइआइ) – American Standard Code For Information Inter-Change (अमेरिकन स्टैण्डर्ड कोड फॉर इनफार्मेशन इंटर-चेंज)
P.C – A.T (पीसी-एटी) – Personal Computer -Extended Technology (पर्सनल कंप्यूटर एक्सटेंडेड टेक्नोलॉजी)
P.C – X.T (पीसी-एक्सटी) – Personal Computer – Extended Technology (पर्सनल कंप्यूटर एक्सटेंडेड टेक्नो )

DTP Full Form in Hindi | DTP Meaning | डीटीपी की जानकारी

Whats is DTP full form & meaning in Hindi: D.T.P. ka full name और its definition Hindi में जानिए. आज इस लेख में आप  What is DTP means, Desk top publishing की जानकारी पा सकते है, इसके लिए आगे पढ़िए.

Full form of DTP in Hindi / जानिए डीटीपी का पूरा नाम

Desk top publishing ka abbreviation (short name) hai D.T.P. Desk top publishing (DTP) ने media production में एक अपेक्षाकृत नई प्रगति है जो publisher को print या उन्हें final touch देने से पहले अपने products को digital रूप से view और revise करने की अनुमति देता है। Websites, newspapers, magazines, newsletters, pamphlets & flex banner को Desktop publishing techniques और software के जरिए बनाया जा सकता है। इस area में डिजिटल डिज़ाइन और संपादन कौशल महत्वपूर्ण हैं, और इसलिए computer और रचनात्मक software के साथ एक मजबूत परिचित अनिवार्य है

यह electronic documents और presentation को बनाने के लिए computer applications, digital graphics और multimedia format का उपयोग करता है। Desk top publishing के द्वारा digital page बना सकते हैं, जो कि computer / mobile में देखने के लिए होते हैं, साथ ही virtual page (virtual pages) जो physical format यानि print page पर transfer होते हैं।

Digital pages & Virtual Pages in DTP

डेस्क टॉप पब्लिशिंग (DTP full form) में दो प्रकार के pages, digital page और physical document pages पर printout निकलने से पहले, computer में कैसा दिखेगा यह पता चलता है. ये virtual pages हैं। सभी computrized documents तकनीकी रूप से electronic होते हैं, जो कि केवल computer मेमोरी या computer डेटा स्टोरेज स्पेस द्वारा size में limited होते हैं।

Virtual pages को हम बाद में print करते है. इसलिए standard paper size की आवश्यकता होती है जो international standards paper size जैसे A4 & Letter आदि के साथ मेल खाते हैं. और WYSIWYG (What you See Is What You Get) format में monitor पर देखा जा सकता है।


What is Printing in DTP

Print के लिए प्रत्येक page में ट्रिम आकार (paper के किनारे) और प्रिंट करने योग्य area हैं यदि printing संभव नहीं है, जैसा कि अधिकांश desktop printer के मामले में होता है एक web page एक ऐसे digital page का एक example है, जो कि वर्चुअल पेपर मापदंडों से सीमित नहीं है। अधिकांश digital पन्नों को dynamic format से फिर से आकार दिया जा सकता है, जिससे content page के साथ आकार में स्केल कर सकते हैं या फिर content को पुन: प्रवाह कर सकते हैं।
What is Master Page in Designing / मास्टर पेज क्या है

Master page templates का उपयोग templates जिन्हें automatic रूप से एक multi pages document के कुछ या सभी pages में element और graphic design / style copy या link करने के लिए किया जाता है। link elements को उसी elements का उपयोग करने वाले pages पर एक elements के प्रत्येक example को बदले बिना modify किया जा सकता है। Master page का उपयोग auto page numbering के लिए ग्राफिक डिजाइन styles को भी लागू करने के लिए किया जा सकता है.

Desk Top publishing (DTP full form) in Web Page Design / वेब पेज डिजाइनिंग और डीटीपी

कैस्केडिंग स्टाइल शीट (CSS) के द्वारा web page के लिए एक ही global format standard set कर सकते हैं जैसे कि master page वर्चुअल पेपर पेजों के लिए प्रदान करते हैं।

Page layout designing द्वारा elements web page पर organized, beautifully और सटीक रूप से रखे जाते हैं। Web page बनाए जाने के लिए विभिन्न प्रकार के text, link, images शामिल हैं, जिन्हें केवल external source के रूप में modify किया जा सकता है, और embedded imagesजिन्हें layout application software के साथ modify किया जा सकता है। कुछ Embedded graphics application software में प्रदान की जाती हैं, जबकि अन्य को external source image folder से रखा जा सकता है।


एक website जो कई webpages ka collection है, इसको बनाने में एक ही समय में कई editor / designer / developer को एक document develop करने की permission देता है। color, effects और filter जैसे ग्राफिक डिजाइन styles को भी layout element पर लागू किया जा सकता है।

Style sheets के साथ स्वतः टाइप करने के लिए typography style लागू की जा सकती हैं कुछ layout programs में text के अलावा images के लिए style sheet भी शामिल हैं। Images के लिए ग्राफिक styles fixed size, color, पारदर्शिता / transparency, फ़िल्टर दिखाया जा सकता है। 

Programs & Application software for Desk Top Publishing (DTP full form)
DTP डिजिटल फाइलों और content को collect & organised करने के लिए व्यापक computer applications पर निर्भर करता है। desktop publisher इन apps / software का use करते हैं

Adobe Dreamweaver (वेब डिजाइनिंग के लिए)

एडोब फ़्रेममेकर
एडोब इलस्ट्रेटर / Illustrator
एडोब इनडिज़ाइन / Indesign
एडोब फ्लैश / Flash (एनीमेशन और मल्टीमीडिया के लिए )
एडोब फोटोशॉप / Photoshop (फोटो एडिटिंग और ग्राफ़िक बनाने के )
कोरल वेंचुरा / Ventura
कोरल ड्रा / Corel Draw
QuarkXPress
माइक्रोसॉफ्ट पावरप्वाइंट / MS Power Point
माइक्रोसॉफ्ट publisher
माइक्रोसॉफ्ट वर्ड / MS Word & Open Office (वर्ड प्रोसेसिंग जैसे डॉक्यूमेंट तैयार करने के लिए )

Dear readers!

Aapke liye DTP full form ki information Hindi publish ki hai. Ise padhkar aapko DTP meaning ki jankari hogai hogi. Agar is page me koi mistake ya modification ki jaroorat hoto hame jaroor bataye.

Previous
Next Post »

Please write some word in this box ConversionConversion EmoticonEmoticon

Note: Only a member of this blog may post a comment.